हाथों की इस रेखा में छुपा है विवाह और प्रेम प्रसंग

हाथों की इस रेखा में छुपा है विवाह और प्रेम प्रसंग

प्रेम और विवाह के बारे में जानने के लिए सभी उत्सुक रहते है. पुराने समय से ही प्रेम काफी प्रचलित रहा है. हर किसी को अपने जीवन में एक बार प्यार जरूर होता है, लेकिन कुछ लोगो को जीवन में बहुत बार प्यार होता है क्यों की उनके हाथो पर कई प्रेम रेखा होती है. तो आईये जानते है कहा होती है प्रेम और विवाह रेखा।

ज्योतिषो के अनुसार हस्तरेखा व्यक्ति के पुरे जीवन का दर्पण होती है.

विवाह रेखा सबसे छोटी ऊँगली के प्रारम्भ में होती है, उस स्थान को बुध पर्वत कहा जाता है. यह रेखा आडी होती है, ऐसा कहा जाता है की यह रेखा एक से अधिक हो सकती है, जितनी ज्यादा होती है, उस व्यक्ति के उतने ही प्रेम सम्बन्ध होते है. साथ ही यह रेखा बताती है की आपका वैवाहिक जीवन कैसा रहेगा।

अगर किसी की यह रेखा कटी या टूटी हुयी है उस का विवाह टूटने की सम्भावना होती है.

अगर ये रेखा नीचे की और झुकी हुयी है तो उसको वैवाहिक जीवन में बहुत कष्टो का सामान करना पड़ेगा।

यदि बुध पर्वत से आई हुई रेखा विवाह रेखा को काट दे तो उस व्यक्ति को अपने वैवाहिक जीवन में बहुत कष्टो और परेशानियों का सामना करना पड़ता है, उसका वैवाहिक जीवन बहुत चुनोतियो से भरपूर होता है.